Enquiry Now
Ganpati Jyotish | Ganesh
1
archive,author,author-ganesh,author-1,theme-bridge,qode-quick-links-1.0,woocommerce-no-js,ajax_fade,page_not_loaded,,paspartu_enabled,hide_top_bar_on_mobile_header,columns-3,qode-child-theme-ver-1.0.0,qode-theme-ver-11.1,qode-theme-bridge,wpb-js-composer js-comp-ver-5.1.1,vc_responsive
 

Author: Ganesh

गणपति ज्योतिष संस्थान के अनुसार किसी कार्य को शीघ्रता से आरंभ करना हो अथवा यात्रा पर जाना हो और कोई मुहूर्त नहीं निकल रहा हो तो उसके लिए चौघड़िया मुहूर्त देखकर कार्य करना या यात्रा करना उत्तम होता है। गणपति ज्योतिष संस्थान के अनुसार गुरुवार, दिन...

गणपति ज्योतिष संस्थान के अनुसार बुध ग्रह के कुंभ राशि में आने से लोगों की आर्थिक स्थिति में हो सकते हैं बदलाव ? 25 जनवरी, सोमवार को बुध ग्रह मकर राशि से निकल कर कुंभ में आ चुका है। ये ग्रह 4 फरवरी तक इसी राशि...

गणपति ज्योतिष संस्थान के अनुसार 2 अशुभ योग बनने से आज कुंभ राशि वालों को लेन-देन या डील करते वक्त रखनी होगी सावधानी ? 27 जनवरी, बुधवार के ग्रह-नक्षत्र विषकुंभ और गद नाम के अशुभ योग बना रहे हैं। इनका असर 4 राशियों पर रहेगा। वास्तु...

28 जनवरी को पूर्णिमा पर खत्म होगा पौष मास, इस दिन पर नदियों का ध्यान करते हुए स्नान करें गुरुवार, 28 जनवरी को पौष मास की अंतिम तिथि पूर्णिमा है। इसके बाद अगले दिन से यानी शुक्रवार से माघ मास शुरू हो जाएगा। पूर्णिमा पर पवित्र...

पौष महीने की पूर्णिमा 28 को इस पर्व पर तीर्थ स्नान के साथ सूर्य और चंद्र पूजा की भी परंपरा है ? पौष महीने की पूर्णिमा 28 जनवरी, गुरुवार को है। इस दिन सूर्योदय से पहले ही पूर्णिमा तिथि के शुरू हो जाने से स्नान-दान, पूजा-पाठ...

गणपति ज्योतिष संस्थान के अनुसार पंचाग का पठन एवं श्रवण अति शुभ माना जाता है इसीलिए भगवान श्रीराम भी पंचांग का श्रवण करते थे। पंचांग को नित्य पढ़ने/सुनने से देवताओं की कृपा, कुंडली के ग्रहो के शुभ फल मिलते है। गणपति ज्योतिष संस्थान के अनुसार बुधवार,...

क्या शादी के लिए कुंडली मिलान जरुरी है ? हिन्दू परंपरा के अनुसार शादी एक पवित्र बंधन है। जो की दो आत्माओ का मिलन माना जाता है। हिन्दू मान्यताओ के अनुसार शादी सात जन्मो का रिश्ता है। तब ऐसे मे एक उम्र के बाद प्रत्येक माता-पिता...

लाल किताब के अनुसार क्या है, दक्षिणमुखी मकान के नुकसान?   लाल किताब के अनुसार दक्षिण दिशा के मकान में रहने वाले लोग भी सुखी देखे गए हैं या दक्षिण मुखी दुकान में व्यापार करने वाले भी उन्नति करते हुए पाए गए हैं, लेकिन ऐसे लोगों को...

दशमेश पिता गोविंद सिंह ने ही आदिग्रंथ साहिब को दी थी गुरु की गद्दी ? शौर्य और साहस के प्रतीक श्री गुरु गोबिंद सिंह का जन्म पौष महीने के शुक्लपक्ष की सप्तमी तिथि को बिहार के पटना साहिब में हुआ था। इस बार ये तिथि 20...